मायावती बायोग्राफी: जीवन परिचय, शिक्षा, परिवार, नेटवर्थ, पति, आयु, राजनीतिक करियर

[Mayawati Biography in Hindi] मायावती बायोग्राफी: जीवन परिचय, शिक्षा, परिवार, पति, आयु, मायावती राजनीतिक करियर, मायावती संपत्ति, नेटवर्थ || बहन जी के नाम से मशहूर मायावती के जीवन से जुडी रोचक जानकारियां आज इस लेख माध्यम से आपके साथ साँझा करने जा रहे है। कुमारी मायावती जो कि बसपा (बहुजन समाज पार्टी BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष है आज हम उनके राजनीति में योगदान और जीवन परिचय के बारे में जानकारी देंगे। मायावती जी एक भारतीय राजनेत्री है साथ ही उत्तर प्रदेश जैसे बड़े राज्य की चार बार मुख्यमंत्री रह चुकी है।

मायावती बायोग्राफी || मायावती की जीवनी / जीवन परिचय

मायावती का भारत की सबसे युवा महिला मुख्यमंत्री और सबसे प्रथम दलित मुख्यमंत्री होने का भी श्रेय प्राप्त है। इनको राजनैतिक सत्ता में कई परेशानियों का सामना किया हैं। सत्ता में आने से पहले वह एक शिक्षिका थी। आओ अब हम मायावती जी के प्रारभिंक जीवन, राजनैतिक जीवन और उनके उपलब्धियों के बारें में बतायेंगे। इसके लिए आपको यह बायोग्राफी अंत तक पढ़ना होंगा।

Mayawati Biography in Hindi
Mayawati Biography in Hindi

मायावती का प्रारंभिक जीवन || जन्म || शिक्षा

प्रारभिंक जीवनः- मायावती जी का जन्म 15 जनवरी 1956 को दिल्ली में हुआ था। इनके पिता का नाम प्रभूदेव था जो कि गौतमबुद्ध नगर में एक डाकघर कर्मचारी थे। माता का नाम रामरती था जो गृहिणी थी। मायावती के 6 भाई और 2 बहनें थी। मायावती ने दिल्ली के कालिंदी कॉलेज से सन 1975 में स्नातक की डिग्री (BA) प्राप्त की है और उसके बाद सन 1976 में इन्होंने उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद के वी.एम.एल.जी. कॉलेज से बीएड (B.Ed) की डिग्री की प्राप्त की। बाद में इन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से एलएलबी (LLB) की पढ़ाई पूरी की।

इनके पिता इनको कलेक्टर बनाना चाहते थे जिसके लिए मायावती ने प्रशासनिक सेवा के लिए तैयारी की। इस तैयारी के दौरान इन्होनें शिक्षिका के रूप में भी कार्य किया। परन्तु शिक्षिका के रूप में कार्य करते समय इनकी मुलाकात काशी राम से हुई जिसके कारण मायावती की जिन्दगी बिल्कुल ही बदल गयी। काशी राम के प्रभाव को देखकर मायावती के पिता बिल्कुल खुश नहीं थे। इनके पिता ने काशी राम के पद चिन्हों पर जाने के लिए मना किया लेकिन मायावती नहीं मानी और काशी राम के बड़े पैमानों पर होने वाले परियोजनाओं और सामाजिक कार्याे में जुड़ती चली गयी।

Also Read: अखिलेश यादव बायोग्राफी: पत्नी, परिवार, नेटवर्थ, आयु, जीवन परिचय

Overview of Mayawati Biography in Hindi

जीवन परिचय बिंदु जीवन परिचय
पूरा नाम (Full Name) मायावती प्रभु दास
उप नाम (Nickname) बहन जी, कुमारी मायावती, आयरन लेडी मायावती
जन्म (Birthdate) 15 जनवरी, 1956
उम्र (Age) 66 साल (2022 के अनुसार)
जन्म स्थान (Birth Place) श्रीमती सुचेता कृपलानी हॉस्पिटल, नई दिल्ली, भारत
पिता का नाम (Father’s Name) प्रभु दास
माता का नाम (Mother’s Name) राम रती
भाई का नाम (Brother’s Name) आनंद कुमार
भाई-बहन 6 भाई और 2 बहनें
पेशा (Profession) भारतीय राजनीतिज्ञ
राजनीतिक पार्टी (Political Party) बहुजन समाजवादी पार्टी (बीएसपी)
राष्ट्रीयता (Nationality) भारतीय
गृहनगर (Hometown) बादलपुर, गौतम बुद्ध नगर, उत्तरप्रदेश, भारत
धर्म (Religion) हिन्दू
जाति (Caste) अनुसूचित जाति (एससी)
वैवाहिक स्थिति (Marital Status) अविवाहित
पसंद (Hobbies) पढ़ना एवं लिखना
पसंदीदा राजनेता (Favourite Politician) कांशी राम
राशि (Zodiac Sign) मकर राशि
कद (Height) 5 फुट 2 इंच
वजन (Weight) 80 किलोग्राम (लगभग)
बालों का रंग (Hair Colour) काला
आँखों का रंग (Eye Colour) काला
पता (Address) गांव- खजुरिया गोबरा, पोस्ट. खीरी, जिला: इलाहाबाद 
नेट वर्थ (Net Worth) 111 करोड़ (लगभग)

You May Also Likes

मायावती का राजनीतिक करियर और घटनाक्रमों की जानकारी

  • राजनीतिक जीवनः- यह बात है साल 1984 की जब बहन मायावती शिक्षिका के रूप में कार्य करती थी तब उनकी मुलाकात कशी राम जी से हुई। उस समय कशी राम ने एक नये राजनैतिक दल का गठन किया जिसका नाम बहुजन समाज पार्टी था। तब मायावती ने शिक्षिका का कार्य छोड़कर इस पार्टी में ध्यान देना शुरू कर दिया और पूरी तरह से इस पार्टी में अपने आपको समर्पित कर दिया।
  • उसी साल मायावती ने मुज्जफरनगर जिले के कैराना लोक सभा से अपना पहला चुनाव लड़ने का अभियान शुरू किया जिसके बाद 1985 से 1987 तक लोकसभा चुनाव के लिए मायावती ने कड़ी मेहनत की और 1989 में बहुजन समाज पार्टी ने बिजनौर से 13 सीटों पर चुनाव जीता। जिसके बाद मायावती बिजनौर से सांसद चुनी गयी।
  • इसके बाद बसपा में दलितों और पिछड़े वर्गों की संख्या बढ़ती गयी जिससे इनकी पैठ लगातार मजबूत होती गयी और साल 1995 में उत्तर प्रदेश की गठबंधन सरकार के द्वारा मायावती उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बन गयी।
  • सन् 2001 में कशी राम ने मायावती को बसपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया।
  • वर्ष 2002-2003 के दौरान भारतीय जनता पार्टी के गठबंधन सरकार के कारण मायावती फिर से उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बन गयी। इसके बाद भारतीय जनता पार्टी सरकार ने अपना समर्थन वापिस ले लिया जिससे इनकी सरकार गिर गयी। इसके बाद उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव को बनाया गया।
  • सन् 2007 में दोबारा सत्ता में आने के बाद देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री के पद को संभाला। परन्तु इनके शासनकाल में बसपा का विस्तार केवल इसी राज्य में रहा क्योंकि इनके निरकुंश शासन के चलते कई पिछड़े वर्ग के लोगों ने इनसे मुंह मोड़ लिया। इन्होनें अपने शासन काल में राज्य में कई दलित और बौद्ध धर्म के सम्मान कई स्मारक तैयार किये।

मायावती की राजनीति में पहचान

मायावती ने अपने शासनकाल में कई विवादों में घिरी रही परन्तु उनका राजनीति अभ्युदय सचमुच अच्छा रहा है। एक सामान्य दलित परिवार से आई हुई यह महिला ने ऐसा मुकाम पाया कि शायद ही किसी ने कभी कोई काम किया है। मायावती हमेशा से ही विवादों में रही परन्तु इन सबकी परवाह ना करते हुए अपने दलितों में खुद जगह बनायी है और दलितों में अपने प्रति विश्वास कायम किया है।

[Join Us on Telegram for Latest Updates]

मायावती से जुड़ी रोचक जानकारियां

  • मायावती एक ऐसी भारतीय राजनेता है जो उत्तर प्रदेश में सबसे कम उम्र और दलित महिला मुख्यमंत्री के रूप में जानी जाती है।
  • मायावती अक्सर सरकारी और निजी क्षेत्रों में दलितों का आरक्षण दिलाने में सहायक रही है।
  • 15 दिसंबर 2001 को लखनऊ में काशीराम जी ने मायावती को बसपा में उत्तराधिकारी घोषित किया गया।
  • पहली बार काशी राम ने 18 सिंतबर 2003 में मायावती को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया।
  • वर्ष 2003 में मायावती को मुख्यमंत्री के रूप में पोलियो उन्मूलन में उनके पहल के लिए यूनिसेफ, विश्व स्वास्थ्य संगठन, और रोटरी इंटरनेशनल द्वारा “पॉल हैरिस फेलो अवार्ड“ से सम्मानित किया गया था।

मायावती के जीवन से जुडी कुछ प्रसिद्ध पुस्तकें

मायावती के ऊपर कई पुस्तकें लिखी जा चुकी है। इनमें पहली पुस्तक “आयरन लेडी कुमारी मायावती“ है। इस पुस्तक के लेखक पत्रकार मोहम्मद जमील अख्तर हैं। मायावती ने स्वंय भी अपनी कई पुस्तकें लिखी है जो कि हिन्दी में है “मेरा संघर्षमयी जीवन“ और “बहुजन मूवमेंट का सफरनामा“ तीन भागों में लिखा हैं। ये दोनों ही पुस्तकें बहुत ही चर्चित हैं। वरिष्ठ पत्रकार अजय बोस ने मायावती के ऊपर एक पुस्तक लिखी है जिसका नाम है “बहनजीः अ पॉलिटिकल बायोग्राफी ऑफ मायावती” है।

मायावती की उपलब्धियां

सत्ता में आने के बाद मायावती ने कई अनियमितताओं को समाप्त करने का प्रयत्न किया। मायावती को शिकायत थी कि कई विभागों में भर्तियों की धांधली हो रही है। जिसको सुधारने के लिए उन्होनें कई प्रयास किये और भर्ती प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने में प्रयत्न करा। मायावती ने दलित वर्गाे के उत्थान के लिए और दलित वर्गो को आरक्षण देने में काफी सहयोग किया। जिसके परिणामस्वरूप उत्तर प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों और में दलित वर्ग के लिए सीटें आरक्षित की गयी। इनके कार्यकाल में कई भव्य पार्कों का निर्माण हुआ।

इस प्रकार आज हमने बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती के बारें में विस्तार से बताया। आशा करते है आपको यह बायोग्राफी जरूर पसंद आयेंगी।

FAQs – मायावती बायोग्राफी || जीवन परिचय

प्रश्न: मायावती का पूरा नाम क्या है और इनको किस-किस नाम से जाना जाता है?

उत्तर: इनका पूरा नाम मायावती प्रभु दास है और इनको बहनजी, कुमारी मायावती और आयरन लेडी मायावती के नामों से भी जाना जाता है।

प्रश्न: मायावती की सम्पति / नेटवर्थ कितनी है?

उत्तर: अभी तक प्राप्त आकड़ों के अनुसार लगभग 111 करोड़ रूपये है।

प्रश्न: कुमारी मायावती कितनी बार उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बनी है?

उत्तर: अभी तक ये कुल चार बार उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री बन चुकी है। सबसे पहले वर्ष 1995 में इन्होंने मुख्यमंत्री का पद संभाला था। दूसरी बार वर्ष 1997 में 21 मार्च से 20 सितम्बर 1997 तक अल्पकालीन मुख्यमंत्री रही। तीसरी बार 03 मई 2002 से 29 अगस्त 2003 तक मुख्यमंत्री रही। इसके बाद 2007 में इनकी पार्टी बसपा की बहुमत मिला और मायावती ने फिर से एक बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। 15 मार्च 2012 तक इन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया।

प्रश्न: मायावती की उम्र कितनी है?

उत्तर: वर्ष 2022 के अनुसार इनकी उम्र 66 वर्ष हो चुकी है।

प्रश्न: मायावती के पति का क्या नाम है?

उत्तर: इन्होंने कभी शादी नहीं की, तो वासजीब सी बात ही की इनके पति का नाम भी नहीं होगा।

प्रश्न: मायावती के पति का क्या नाम है?

उत्तर: इन्होंने कभी शादी नहीं की, तो वासजीब सी बात ही की इनके पति का नाम भी नहीं होगा।

प्रश्न: कुमारी मायावती कहाँ तक पढ़ी है?

उत्तर: इन्होंने BA, B.Ed और LLB की डिग्री की हुई है।

from ICDSUPWEB.ORG https://ift.tt/opyra5H